Wednesday, July 21, 2021

यार्न नमूनाकरण विधि (Yarn sampling method)

Please click on the below link to read this full article in English:

Yarn sampling method

 यार्न नमूनाकरण विधि:

यार्न विभिन्न पैकेज रूपों में उपलब्ध होता है। बड़ी संख्या में ऐसे पैकेजों में  एक छोटी संख्या का चयन एक बड़ी समस्या होती है। यार्न रिंग बॉबिन, मुल कॉप्स, हैंक्स का एक बंडल, चीज़ या कोन के  रूप में हो सकता है। यार्न टेस्ट करने के दौरान रैंडम सैंपलिंग को प्राथमिकता दी जाती है। इस प्रकार का नमूना प्राप्त करने के दौरान  मिल प्रयोगों और अनुसंधान के लिए बहुत सावधानी बरना सुनिश्चित किया जाता  है। टेस्टिंग के दौरान समय की बचत और प्रयास की मितव्ययिता के हित में ताश के पत्तों और यादृच्छिक संख्याओं की तालिकाओं के माध्यम से सैंपलिंग के दौरान होने वाली गलतियों  को निम्न स्तरपर लेन का प्रयास किया  जाता है। यह अनुमान नहीं लगाया जाना चाहिए किमिल  के अंदर टेस्टिंग के नमूने पक्षपाती होते हैं। शोध कार्य की तुलना में  केवल थोड़े से  कम परिष्कृत होते है।

यादृच्छिक संख्या तालिका का उपयोग:

मान लीजिए कि 50 रिंग बॉबिन परीक्षण के लिए उपलब्ध हैं। हमें परीक्षण के लिए 10 बॉबिन का चयन करना है । सबसे पहले प्रत्येक बॉबिन को एक सीरियल नंबर दिया जाता है या सभी बॉबिन को टेबल के ऊपर रख दिया जाता है। इन बोबिन्स को पाँच पंक्तियों में व्यवस्थित किया जाता  है। बॉबिन की प्रत्येक पंक्ति में 10 बॉबिन होते हैं। अब यादृच्छिक नमूना संख्या तालिका के अनुसार बल्क मटेरियल  से बॉबिन का चयन किया जाता है।

हम उपरोक्त तालिका में कहीं से भी संख्याओं को जोड़ियों में पढ़ना शुरू करते हैं। मान लीजिए कि हम पंक्ति संख्या दो से पढ़ना शुरू करते हैं। इस पंक्ति की पहली संख्या 74 है। ७४, ५० से बड़ा है इसलिए हम इसे अनदेखा कर देते हैं। इसके बाद ४९  आता है। सबसे पहले, हम बल्क से बोबिन नंबर ४९  का चयन करते हैं। अगली संख्या ०४  है जो 50 से कम है। इसलिए बॉबिन नं ०४  का चयन किया जाता है । हम टेबल को लगातार पढ़ते रहते हैं और उसी के अनुसार बोबिन्स का चुनाव करते जाते हैं। यदि कोई संख्या पचास से अधिक है, तो उसे अनदेखा कर दिया जाता है और अगली संख्या पर विचार किया जाता है। दिए गए बल्क के लिए चयनित बॉबिन नंबर इस प्रकार होंगे:

४९, ०४, ०३, १०, ३३, ११, ४८, ३८, ३१, २३

जब आप अगली संख्या का चयन करते हैं तो पहले से चयनित होने वाली संख्याओं को भी अनदेखा कर दिया जाता है।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

फ्रिक्शन स्पिनिंग विधि, मुख्य विशेषताएं, सीमाएं, बुनियादी संरचना और फ्रिक्शन स्पिनिंग मशीन का कार्य सिद्धांत (Friction spinning method, main features, limitations, basic structure and working principle of friction spinning machine )

 फ्रिक्शन स्पिनिंग  विधि, मुख्य विशेषताएं, सीमाएं, बुनियादी संरचना और फ्रिक्शन स्पिनिंग  मशीन का कार्य सिद्धांत फ्रिक्शन स्पिनिंग क्या है? ....