Friday, June 4, 2021

कपड़े की मोटाई का परीक्षण ( fabric thickness test)

 कपड़े की मोटाई का परीक्षण

कपड़े की मोटाई:

किसी भी संपीड़ित सामग्री की मोटाई जैसे बुने हुए कपड़े, और गैर बुने हुए कपड़े को इस तरह की सामग्री की मोटाई के रूप में परिभाषित किया जाता है कि कपडे को मोटाई वह दोनों प्रेसिंग प्लेट्स के बीच की वह दूरी है  जब कि कपड़े के नमूने को नॉन कम्प्रेसिबल धातु की दो समतल सतहों के बीच रखा जाता है और वृत्ताकार दवाव डालने वाली प्लेटों की सतहों को एक दूसरे के समानांतर रखा जाता है। नमूनों का परीक्षण निर्दिष्ट दबाव में किया जाता है।

प्रयुक्त उपकरण:

1- फैब्रिक थिकनेस टेस्टर ।

2- कैंची।

3- कपड़ा।

4- मार्किंग पेन।

नमूना कि तैयारी:

नमूने का आकार सिफारिश मानक के अनुसार रखा जाता है। आम तौर पर, नमूने के 10 मिमी व्यास को टेम्पलेट की मदद से काटा जाता है। कपड़े के विभिन्न स्थानों से 10 नमूने तैयार किए जाते हैं। नमूने को कपड़े की सेल्वेज के पास नहीं काटा जाना चाहिए। नमूने का परीक्षण 100 ग्राम/वर्ग सेंटीमीटर के  दवाव पर  किया जाता है। सिफारिश परीक्षण मानक के अनुसार नमूना आकार और दबाव सीमा भिन्न हो सकती है। आप नीचे दिए गए चित्र में देख सकते हैं:

परीक्षण प्रक्रिया:

यह एक  बहुत ही सरल परीक्षण है। तैयार नमूना निहाई (ई) और गोलाकार प्रेशर फुट  (डी) के बीच रखा जाता  है। नमूना को गोलाकार दबाव वाले फुट  के नीचे रखा जाता है। नमूने में कोई सुकुडन नहीं होनी चाहिए। निर्दिष्ट दबाव प्रेशर रिलीज लीवर द्वारा गोलाकार प्रेशर  फुट पर लगाया जाता है। नमूने पर 100 ग्राम प्रति वर्ग सेंटीमीटर का मानक दबाव लगाया जाता है। यह सिफारिश मानक के अनुसार भिन्न हो सकता है।

जब गोलाकार प्रेशर फुट  नमूने को दबाता है, तो टेस्टर में लगे माइक्रोमीटर की मदद से कपड़े की मोटाई मापी जाती है। उपरोक्त विधि के अनुसार सभी परीक्षण नमूनों का एक-एक करके परीक्षण किया जाता है। सभी परिणामों के माध्य की गणना की जाती है। कपड़े की मोटाई मिमी में व्यक्त की जाती है।

सावधानियां:

1 - नमूनों को सटीक रूप से तैयार किया जाना चाहिए। नमूने का आकार सिफारिश मानक के अनुसार रखा जाना चाहिए।

2 - अनुशंसित मानक के अनुसार लागू दबाव का चयन किया जाना चाहिए।

3 - प्रेशर लीवर को धीरे से छोड़ना चाहिए।

4 - परिणामों को बहुत ध्यान से पढ़ना चाहिए।

5 - यंत्र को ठीक से समतल किया जाना चाहिए।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

अंडर-पिक मोशन की संरचना और कार्य: ( Structure and working of under pick motion )

अंडर-पिक मोशन:  चूंकि इस पिकिंग मोशन  में करघे के नीचे पूरा पिकिंग तंत्र लगा होता है और पिकिंग स्टिक भी करघे के नीचे शटल को टक्कर मरती  है, ...